Instant Gaming के नुकसान Side Effects Of Instant Gaming

Instant Gaming के नुकसान Side Effects Of Instant Gaming

 

 

Instant Gaming की दुनिया : कुछ समय पहले एक time था जब बच्चे और किशोर खाली time में video game का आनंद लिया करते थे . उस time Gaming की दुनिया उतनी popular नहीं थी जितनी आज है ,लेकिन आज के दौर में वीडियो game का एक अलग ही level देखने को मिल रहा है 

Showbox Not Working Solution In Hindi – Full Guide 2020

Online और Multiplayer option की सहज available होने के कारण यह बच्चो के बीच इतना popular/लोकप्रिय हो गया है की यह उन्हें Gaming की दुनिया वास्तविक दुनिया से पूरी तरह से दूर कर रहा है . और बच्चे अपनों से ही दूर होते जा रहे है , इससे उन बच्चो का भी शारीरिक और मानसिक विकास नहीं हो पता .Gaming की दुनिया का बहुत फ़र्क़ पड़ रहा है 

 

बच्चो में video game की ऐसी लत देखने को मिल रही है , जिसके कारन वे घर परिवार और दोस्तों से cut कर एक अलग आभासी दुनिया में जीने लगे है.इन बच्चो के आस पास क्या हो रहा है , किसी बात की कोई खबर नहीं रहती है . सबसे बड़ी समस्या ये है की video game की लत ही युअवास्ता में depression और गुस्सैल nature का बनती है . Video game के इस दौर में बच्चे और teenagers outdoor game को पूरी तरह भूलते जा रहे है . हर हफ्ते 8 to 22 years के बच्चे 4 , 5 मरीज़ AIIMS पहुँच रहे है . Parents परेशान दिखते है 

 

चिंता और depression के शरुआती लक्षण

चिंता और Depression के शरुआती लक्षण : किशोरावस्था एक ऐसी उम्र है , जिसमे बच्चो का दिमागी विकास होता है . Instant Gaming की दुनिया ने इस उम्र में उनके nature में सब से ज़्यादा changing नज़र अति है . इन बदलाव के कारण कोई भी नई चीज़ उन्हें अपने तरफ attaract करती है

 

और यही चिंता और Depression के शरुआती लक्षण के है और इस उम्र में उन्हें अच्छी चीज़ो की आदत पर सकती है और बुरी चीज़ो का लत भी हो सकता है . अधूरे ज्ञान की वजह से उनमे चिंता और depression के शरुआती लक्षण नज़र आ सकते है . Video game की virtual दुनिया कहे या Instant Gaming की दुनिया इस में अधिक वक़्त बिताने से बच्चो को अकेलापन महसूस होने लगता है और वो खोये – खोए से रहने लगते है 

 

चिंता और depression के शरुआती लक्षण

 

यहाँ तक की वो busy life से मम्मी पापा भी बच्चो के साथ time नहीं बिता पते है , जिससे उन्हें प्यार , स्नेह और ध्यान की चाहत होती है .इस चाह में वो इस तरह की चीज़ो से attract हो जाते है 

 

Computer Full Form In Hindi कंप्यूटर क्या है ? पूरी जानकारी

Multiplayer game बन रहा है एक बड़ा कारण

Multiplayer game बन रहा है एक बड़ा कारण : Multiplayer game [ Instant Gaming की दुनिया ] ने video game को इस कदर बदल दिया है की बच्चे खुद को इससे दूर रख ही नहीं पाते है . यह आभारी दुनिया बिना किसी रोक टोक के उन्हें नयी चीज़ो का अनुभव करने का मौका देती है . यह लत और वास्तविक दुनिया के कारण बच्चो का विकास ठीक से नहीं हो पता है और वो खुद को सामाजिक जीवन से दूर रखने लगते है 

School और मम्मी पापा बच्चो को इन game की लत से दूर रखने में एक अहम् भूमिका निभाते है . यदि बच्चो किसी कारण से खोये खोये से रहते है या अकेलेपन और अवसाद महसूस करते है तो मम्मी पापा और school को तुरंत कोई कदम उठाना चाहिए ,
जिससे वे बच्चो को वास्तविकता भरी दुनिया में शामिल कर उन्हें सामाजिक रूप से सक्रिय रख सके 

ऐसे पहचाने लत : GInstant Gaming की दुनिया

· एकांत में रहना जयादा पसंद 
.Physical acitivity व पढाई से दुरी बनाना 
· लोगो से मिलने जुलने में रूचि न लेना 
· किसी भी चीज़ में एकाग्रता न बना पाना 
· मोबाइल या internet से दूर करने पर तुरंत हिंसक या ज़िद्दी हो जाना
· आँखों में लालीपन , सूखापन या पानी आना जैसा बदलाव
· भूख में कमी या खाने में अरुचि 

 

Save from Gaming Ki Duniya
·

.Parents decide करे की बच्चो को किस उम्र में कौन सा gadget देना है 
· Mobile पर song , Videos वगैरा न देखे 
· बच्चो को internet का used पढाई सम्बंधित ज़रूरी कामो के लिए ही करने दे 
· Outdoor game को बढ़ावा दे , शरू से योग और exercise की आदत डालें 
· बच्चो के लिए parents समय निकले , और उनके सात खेले 
· बच्चे internet पर क्या क्या करते है उस पर नज़र रखे 
· अगर आपका बच्चो का लत लग जाता है तो बिना देरी किये मनोचिकित्स्ता से मिलये और Gaming की दुनिया से दूर रखे और लत न लगने दे 

Outdoor Activities के लिए करे प्रोत्साहित : मम्मी पापा और school को उन बच्चो को अलग अलग गतिविधिओ में शामिल करना चाहिए , जिसमे वो हर पल कुछ नया सीख सकते है और उन्हें virtual दुनिया से दूर भी रखा जा सके 

 

मम्मी पापा को बच्चो के साथ जदया से जयादा टाइम बिताना चाइये और उनके हर routine पर नज़र रखनी चाहिए . Video game की लत से बच्चे कई बार रात रात भर सोते नहीं है , जिससे वो अधिक थकन महसूस करते है . धीरे धीरे बच्चो को अकेलेपन की आदत पड़ने लगती है , जिसके कारण मम्मी पापा से बच्चे हर बात छुपाने लग जाते है 

Salman Khan Biography in Hindi सलमान खान के बारे में रोचक जानकारी

मम्मी पापा होने के नाते ये समझना चाहिए की समस्या का मूल कारण video game नहीं , बल्कि आपका उन्हें काम समय देना है . अगर बच्चे को शरू से outdoor गतिविधिओ ( game , योग , Exercise ) etc पर अधिक ध्यान दिलाया जाये , तो बच्चो को अकेलेपन और depression जैसी समस्या से भी दूर रखा जा सकता है.

मेरा नाम शरीफ़ अहमद कादरी हे में एक Youtuber भी हूँ और ब्लॉगर भी हूँ ,इस वेबसाइट पे आपको Technology से जुडी हर तरह की जानकारी मिलती हे अगर आप ब्लॉग्गिंग सीखना चाहते हैं या youtube channel बनाकर पैसा कमाना चाहते हैं या Affilate Marketing करना चाहते हैं या technology से जुडी कोई भी जानकारी लेना या सीखना चाहते हैं तो इस वेबसाइट पर आपको वो सब कुछ सीखने को मिलेगा जो भी आप सीखना चाहते हैं!

Leave a Reply